Thursday, June 13, 2019

Keshav Prasad Maurya ने कहा Akhilesh SP संभालें और कानून व्यवस्था की चिंता छोड़ें

Keshav Prasad Maurya ने कहा Akhilesh SP संभालें : डिप्टी CM Keshav Prasad Maurya ने SP अध्यक्ष Akhilesh Yadav के कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए जाने पर तल्ख टिप्पड़ी की। कहा कि Akhilesh SP संभालें Uttar Pradesh की कानून व्यवस्था की चिंता छोड़ दें। Pradesh की कानून व्यवस्था पूरी तरह से पटरी पर है।

Akhilesh SP संभालें और कानून व्यवस्था की चिंता छोड़ें

Keshav Prasad Maurya ने कहा Akhilesh SP संभालें और कानून व्यवस्था की चिंता छोड़ें
गुरुवार को विकास भवन सभागार में जिला योजना की समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में डिप्टी CM ने कहा कि SP अध्यक्ष को अपनी party देखनी चाहिए। कानून व्यवस्था प्रदेश Sarkar देख रही है। पूरे प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर है और चुस्त दुरुस्त करने के प्रयास किए जा रहे हैं। UPA अध्यक्ष सोनिया गांधी के Congress के वर्ष 2022 का Elections अकेले लड़ने के ऐलान पर Maurya ने कहा कि Congress क्या सभी पार्टियां मिलकर भी लड़ लें लेकिन जीतेगी BJP ही। Congress चाहे जो भी कर ले, हारती ही रहेगी। उन्होंने कहा कि इसका प्रमाण देश की जनता ने Lok Sabha Elections में दे दिया है।

Keshav Prasad Maurya ने कहा Akhilesh SP संभालें

Bengal में जय श्रीराम के नारे पर उन्होंने कहा कि Bengal क्या पूरे देश और दुनिया में जय श्रीराम के नारे लगेंगे। Bengal में BJP की ही Sarkar बनेगी। Bengal Sarkar हमारे कार्यकर्ताओं का चाहे जितना उत्पीड़न कर ले लेकिन उनका मनोबल बहुत ऊंचा है। Bengal की जनता Sarkar से त्रस्त है और उसका जवाब Elections में देगी। डिप्टी CM Keshav Prasad Maurya ने कहा कि पूरे प्रदेश में निराश्रित पशु आश्रय स्थल बनाए जा रहे हैं। ऐसी व्यवस्था की जा रही है कि कोई भी पशु भूख से न मरे। यह भी नहीं होने दिया जाएगा कि Kisna की फसल को नुकसान करें
Continue reading

Friday, March 29, 2019

Akhilesh Yadav का साथ छोड़कर Yogi की दर पर पहुंचे Sanjay Nishad

Lok Sabha Elections 2019: SP-BSP-रालोद गठबंधन में मंगलवार को निर्बल Indian शोषित हमारा आम दल (निषाद) के जुड़ने का एलान हुआ लेकिन, शुक्रवार तक इस रिश्ते में दरार पड़ गई। निषाद Party के अध्यक्ष Dr. Sanjay Nishad गठबंधन से छिटक गए और नई संभावनाओं की तलाश में BJP मुख्यालय पहुंच गए।

Sanjay Nishad ने Lok Sabha Elections प्रभारी जेपी नड्डा, BJP प्रदेश अध्यक्ष Dr. Mahendra Nath Pandey और प्रदेश महामंत्री संगठन Sunil Bansal से Meeting की। बाद में संजय ने मुख्यमंत्री Yogi Adityanath से भी भेंट की। उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ भी थे। Sanjay Nishad के पुत्र प्रवीण निषाद गोरखपुर से SP के सांसद हैं।संकेत मिल रहे हैं कि अब निषाद BJP से तालमेल करेंगे। उन्हें गोरखपुर, घोसी, भदोही या जौनपुर Lok Sabha Seet में से एक-दो मिल सकती है।

Lok Sabha Elections में Akhilesh Yadav का साथ छोड़कर Yogi की दर पर पहुंचे Sanjay Nishad

Akhilesh Yadav का साथ छोड़कर Yogi की दर पर पहुंचे Sanjay Nishad
मंगलवार को SP-BSP गठबंधन को मजबूत करने का दम भरने वाले Dr. Sanjay Nishad ने शुक्रवार को कहा 'महागठबंधन में हम गए लेकिन हमें लगा कि धोखा हो गया। Akhilesh Yadav ने हमें सम्मान नहीं दिया। हमारा Banner-Posters में कहीं नाम नहीं दिया गया। पहले ही दिन से हमें लगा कि Normal condition नहीं है और कहीं न कहीं हमें मिटाने की साजिश हो रही है।

उन्होने कहा कि हम अकेले Elections लड़ेंगे। हम दूसरी संभावना भी देख रहे हैं। Sanjay Nishad ने BSP प्रमुख पर भी गंभीर आरोप लगाए। उनके तेवर तीखे थे। BJP मुख्यालय पहुंचे Sanjay Nishad ने प्रमुख नेताओं से Meeting कर नई संभावनाओं की नींव रख दी।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री Yogi Adityanath के इस्तीफे के बाद गोरखपुर Lok Sabha क्षेत्र के उप Elections में SP अध्यक्ष Akhilesh Yadav ने Sanjay Nishad के पुत्र प्रवीण निषाद को SP का उम्मीदवार बनाया। प्रवीण निषाद ने गोरखपुर में BJP उम्मीदवार को हरा दिया।

गठबंधन में निषाद के शामिल होने के बाद Seets को लेकर पेंच फंस गया। SP गोरखपुर Seet पर प्रवीण को SP के सिंबल पर Elections लड़ाने को तैयार थी लेकिन, Sanjay Nishad महराजगंज Seet भी अपने सिंबल पर लडऩे की मांग कर रहे थे। बात नहीं बनी और वह खफा हो गए।

सूत्रों का कहना है कि Yogi Adityanath की सहमति बन गई तो BJP प्रवीण निषाद को ही गोरखपुर से उम्मीदवार बना सकती है। इसके अलावा घोसी संसदीय Seet पर भी विकल्प खुला है। शाम को BJP मुख्यालय में कोर Group की बैठक में भी Sanjay Nishad पर चर्चा हुई लेकिन, BJP ने इस पर अपना पत्ता नहीं खोला है।
Continue reading

Saturday, March 16, 2019

झाँसी Lok Sabha क्षेत्र से Deepnarayan Yadav को प्रत्याशी बनाने की माँग

झाँसी lok sabha क्षेत्र से Deepnarayan Yadav को प्रत्याशी बनाने की माँग हुई तेज विगत कई दिनों से Samajwadi Party के गरौठा vidhana sabha के पूर्व vidhayak Deepnarayan Yadav जी को प्रत्याशी बनाने की माँग कर रहे है। कार्यकताओं ने सोशल मीडिया के माध्यम से Deepnarayan Yadav को प्रत्याशी बनाने की माँग कर रहे है।

झाँसी Lok Sabha क्षेत्र से Deepnarayan Yadav को प्रत्याशी बनाने की माँग

झाँसी Lok Sabha क्षेत्र से Deepnarayan Yadav को प्रत्याशी बनाने की माँग

छात्र सभा प्रदेश सचिव दीपक दीप लगातार कर रहे है माँग

Samajwadi छात्र के प्रदेश सचिव और Lucknow विश्वविद्यालय के छात्र नेता दीपक दीप सोशल मीडिया से लगातार माँग कर रहे है। दीपक दीप ने हमसे बात करते हुए कहा कि Deepnarayan Yadav जी गरौठा vidhana sabha से पूर्व vidhayak रहे है।

बुंदेलखंड की जनता के हमदर्द गरीब किसान मजदुर के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने वाले vidhayak जी को वह आम जन मानस के नेता है वह लगातार विभिन्न माध्यमों से जनता की समस्याओं को दूर करते रहते है। Deepnarayan Yadav जी अब तक 1000 बहनों का विवाह कर चुके है।

वह गरीब जनों की मदद करना उनका पहला धर्म नजर आता है। वह विकास पुरुष है और लगातार झाँसी के विकास के लिए ततपर रहे है।

SP-BSP-RLD Alliance के राष्ट्रीय अध्यक्षों की संयुक्त रैली की घोषणा

आगरा में 16 अप्रैल को कोठी मीना बाजार मैदान में गठबंधन की संयुक्त रैली होगी। SP-BSP-RLD गठबंधन 7 अप्रैल से देवबंद में संयुक्त रैलियों की शुरूआत करेगा। दूसरे चरण के मतदान में Chunav प्रचार खत्म होने से कुछ घंटे पहले ही BSP अध्यक्ष Mayawati, SP अध्यक्ष Akhilesh Yadav, रालोद अध्यक्ष अजित सिंह कोठी मीना बाजार मैदान पर संयुक्त रैली को संबोधित करेंगे। Lucknow में सेक्टर प्रभारी और संगठन में बदलाव के बाद BSP ने संयुक्त रैलियों की तारीख तय कर दी। आगरा में 16 अप्रैल को संयुक्त रैली होगी तो इससे एक दिन पहले 15 अप्रैल को BSP अध्यक्ष Mayawati अलीगढ़ में रैली करेंगी। 19 अप्रैल को मैनपुरी में SP-BSP और 20 अप्रैल को फिरोजाबाद में SP-BSP की संयुक्त रैली आयोजित की जाएगी।

Bhim Nagri के साथ माहौल बनाने की कवायद

आगरा में डॉ. Bhim Rao Ambedkar जयंती पर 14 अप्रैल को शोभायात्रा निकलती है तो 15 से 17 अप्रैल तक Bhim Nagri और जिले भर में जगह जगह आयोजन होते हैं। ऐसे में 16 अप्रैल को संयुक्त रैली कर BSP अपने समर्थकों के जोश और उत्साह के जरिए माहौल बनाने की कवायद करेगी।

वैसे भी हर Chunav में प्रचार खत्म होने से पहले आखिरी रैली BSP अध्यक्ष Mayawati ही करती रहीं हैं। इस बार भी आगरा में वह 16 अप्रैल को दोपहर में संयुक्त रैली करेंगी। पहली बार तीनों नेता एक ही मंच पर आगरा के लोगों के सामने होंगे।

बता दें कि गठबंधन में आगरा की दोनों Lok sabha सीट आगरा सुरक्षित और फतेहपुर सीकरी BSP के खाते में हैं। आगरा सुरक्षित सीट से BSP के मनोज सोनी का Chunav लड़ना तय माना जा रहा है, वहीं फतेहपुर सीकरी से सीमा उपाध्याय को प्रत्याशी बनाया गया था, लेकिन उन्होंने Chunav लड़ने से इंकार कर दिया है।

अनुसूचित जाति की राजधानी कहे जाने वाले आगरा में जीत के लिए BSP पुरजोर कोशिश कर रही है। हालांकि वर्तमान में इन दोनों सीटों पर BJP के सांसद हैं। पिछले Lok sabha और vidhana sabha Chunav में BJP ने जिले की सभी सीटों पर जीत हासिल की थी, लेकिन इस बार गठबंधन के कारण यहां के समीकरण बदल गए हैं।
Continue reading

Saturday, March 2, 2019

Akhilesh Yadav ने बोला अब नहीं चाहिए जुमले वाली Modi Sarkar

Uttar Pradesh के साथ ही मध्य प्रदेश व उत्तराखंड में Bahujan Samaj Party से गठबंधन करने वाली Samajwadi Party के अध्यक्ष Akhilesh Yadav ने Narendra Modi Sarkar को जुमले वाली Sarkar बताया है। लोकसभा चुनाव की तैयारी में लगे Akhilesh Yadav ने ट्वीट किया है, ''खेती, उद्योग, कारोबार सब बदहाल, अब नहीं चाहिए जुमले वाली ढोंगी Sarkar।"

Samajwadi Party के अध्यक्ष Akhilesh Yadav ने ट्वीट कर Modi Sarkar को जुमले वाली ढोंगी Sarkar बताया है। उन्होंने लिखा कि खेती, उद्योग, दुकानदारी, कारोबार सब बदहाल पड़े हैं। इस बार लोगों को जुमले वाली ढोंगी Sarkar नहीं चाहिए। सपा अध्यक्ष Akhilesh Yadav ने ट्वीट कर Modi Sarkar को जुमले वाली ढोंगी Sarkar बताया है।

Akhilesh Yadav ने बोला अब नहीं चाहिए जुमले वाली Modi Sarkar

Akhilesh Yadav ने बोला अब नहीं चाहिए जुमले वाली Modi Sarkar

इससे पहले कल भी Akhilesh Yadav ने PM Narendra Modi के BJP karyakarta से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सीधा संवाद करने पर निशाना साधा था। Akhilesh ने ट्वीट में लिखथा था, ''निंदनीय है, हालात कितने भी खराब हों पर इस 'शूट-बूथ' वाली BJP के उत्सव जारी रहेंगे।

PM Narendra Modi के इस कार्यक्रम को लेकर Akhilesh Yadav ने कहा कि आज जब पूरा देश Rajaniti से ऊपर उठकर एक Bharat के रूप में Sarkar के साथ खड़ा है। ऐसे में BJP बूथ karyakarta से संपर्क का रिकॉर्ड बनाने में लगी है। BJP समर्थक भी इस आयोजन पर शर्मिंदा हैं। देश में हालात कितने भी खराब हों पर इस 'शूट-बूथ' वाली BJP के उत्सव जारी रहेंगे। निंदनीय।

BS Yeddyurappa के बयान की आलोचना की

इससे पहले भी SP अध्यक्ष ने BJP नेता BS Yeddyurappa के बयान को लेकर Party की जमकर आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि जब देश पायलट की वापसी की दुआ कर रहा है तब BJP नेता यह रणनीति बना रहे हैं कि इसका चुनावी लाभ कैसे लिया जाए। उन्होंने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया। गौरतलब है कि पिछले दिनों कर्नाटक BJP के नेता BS Yeddyurappa ने दावा किया था कि बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद कर्नाटक में उनकी Party 22-28 सीटें जीत सकती है।

हालात खराब हों पर 'सूट-बूथ' वाली BJP के उत्सव जारी रहेंगे

सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति होने के बावजूद PM Modi की Rajanitiक सक्रियताओं पर सख्त टिप्पणी करते हुए Akhilesh ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा था कि देश Rajaniti से ऊपर उठकर एक Bharat के रूप में Sarkar के साथ खड़ा है। ऐसे में BJP बूथ karyakarta से संपर्क का रेकॉर्ड बनाने में लगी है। आज तो BJP समर्थक भी इस आयोजन पर शर्मिंदा हैं। उन्होंने इसे निंदनीय बताते हुए लिखा था कि हालात कितने भी ख़राब हों पर इस ‘शूट-बूथ’ वाली BJP के उत्सव जारी रहेंगे। बता दें कि इससे पहले इसी मुद्दे पर BSP मुखिया Mayawati ने Modi Sarkar पर निशाना साधा था। आजकल लगातार SP-BSP मिलकर BJP को निशाने पर ले रहे हैं।
Continue reading

Friday, February 22, 2019

Akhilesh Yadav की मांग Pulwama Ghatna की जांच होनी चाहिए

SP के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व Mukhyamantri Akhilesh Yadav ने कहा कि Pulwama Ghatna की जांच होनी चाहिए। इसमें खुफिया तंत्र की विफलता पर Sarkar को जवाब देना होगा। 48 जवानों व फौजी अफसरों की शहादत का जवाब कौन देगा? BJP की केंद्र में Sarkar बनने के बाद 56 महीनों में 500 से ज्यादा javaan शहीद हुए है। janta ने भी मन बना लिया है कि BJP को इस बार फिर Delhi का रूख नही करने देंगे। Akhilesh Yadav शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय के डॉ. लोहिया सभागार में कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल व Pradesh के विभिन्न क्षेत्रों से आए कार्यकर्ताओं के समूह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आने वाले Lok Sabha चुनाव अलग तरह के है। इन चुनावों में Desh का भविष्य दांव पर लगा है। देश, Loktantra और संविधान को बचाने के लिए यह वक्त जी-जान से जुटने का है।

Akhilesh Yadav की मांग Pulwama Ghatna की जांच होनी चाहिए

Akhilesh Yadav की मांग Pulwama Ghatna की जांच होनी चाहिए

उन्होंने कहा, BJP चाहे जितने समझौते या गठबंधन कर ले, SP-BSP गठबंधन के सामने Pradesh में जीरो हो जाएंगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे SP-BSP के Lok Sabha प्रत्याशियों को जिताने के लिए दिन-रात एक कर दें। वे यह सुनिश्चित करें कि 80 Lok Sabha सीटों में से एक पर भी BJP को जीत न मिल सके। SP-BSP का गठबंधन देश हित में एक ऐतिहासिक निर्णय है जिसकी पहली प्राथमिकता BJP को सत्ता में आने से रोकना है।

SP अध्यक्ष ने कहा कि सत्ता प्रतिष्ठान द्वारा संवैधानिक अधिकारों का दुरुपयोग, janta से किए गए वादों को पूरा न करना और जनविरोधी- विकास विरोधी नीतियों के चलते BJP को सत्ता से हटाना Loktantra के हित में है। देश नया pradhan mantri चाहता है। कहा कि BJP Sarkar हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है, वह केवल नफरत फैलाकर समाज को बांटने का ही काम करती रही है। (Pulwama Ghatna)

यहाँ जरुर पढ़े:

Akhilesh Yadav का साथ छोड़कर Yogi की दर पर पहुंचे Sanjay Nishad
इस सच्चाई से Pradesh का बच्चा-बच्चा परिचित है। कहा, BJP के कुप्रचार पर रोक लगनी चाहिए। BJP अपने स्वार्थ में कोई भी khataranak कृत्य कर सकती है। लेकिन, अब janta जान गई है। वह BJP की गुमराह करने वाली चालों को अवश्य पराजित करेगी। SP-BSP गठबंधन की विश्वसनीयता के आगे BJP-RSS की फरेबी चालें कभी सफल नहीं होंगी।
Continue reading

Tuesday, February 19, 2019

Akhilesh Yadav का सवाल Modi सरकार क्यों कर रही है इंतजार

Akhilesh Yadav का सवाल - पुलवामा में आज Shaheed हुए Javano को भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए यूपी के पूर्व CM Akhilesh Yadav ने Modi सरकार पर सवाल उठाए हैं। पूर्व CM Akhilesh Yadav अपने ट्विटर पर लिखा कि तीन दिन के बाद आखिर कब तक शोक की अवधि बढ़ती रहेगी? हर दिन हमें अपने Javano के Shaheed होने की khabar मिलती हैं। क्यों सरकार इंतजार कर रही है? आखिर क्यों दर्शक बनी हुई है?

Akhilesh Yadav का सवाल Modi सरकार क्यों कर रही है इंतजार जब की रोज शहीद हो रहे जवान

Akhilesh Yadav का सवाल Modi सरकार क्यों कर रही है इंतजार

उन्होंने कहा कि हर दिन हमें अपने Javano के Shaheed होने की khabar मिलती है, जबकि भाजपा नेता मुस्कुराते हुए उनके अंतिम संस्कार में शामिल होते हैं। बता दें कि उन्नाव से BJP सासंद साक्षी महाराज का एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं। यह फोटो पुलवामा हमले में Shaheed हुए अजीत कुमार आजाद की अंतिम यात्रा की बताई जा रही हैं। इसमें BJP सासंद साक्षी महाराज Shaheed के अंतिम यात्रा के दौरान हंसते हुए दिख रहे हैं।

Akhilesh Yadav का सवाल बता दें कि Jammu Kashmir के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हमले के बाद सुरक्षाबलों ने Atankiyon के khilaph ऑपरेशन तेज कर दिया हैं। इसी के तहत सेना ने रविवार देर रात दक्षिण Kashmir में Atankiyon के khilaph अभियान छेड़ा, जहां अब तक मुठभेड़ चल रही हैं। सूत्रों के मुताबिक, इस मुठभेड़ में पुलवामा अटैक का मास्टरमाइंड और जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर कामरान उर्फ गाज़ी और एक स्थानीय आतंकी हिलाल अहमद ढेर हो गया हैं। हालांकि इस khabar की अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई हैं। इस एनकाउंटर में राष्ट्रीय राइफल्स के एक मेजर समेत 4 जवान भी Shaheed हुए हैं।
Continue reading

Monday, February 11, 2019

जाने क्या हुआ जो Lucknow पहुंचते ही Akhilesh yadav गिरफ्तार

Akhilesh yadav गिरफ्तार - Samajwadi Party द्वारा उत्तर प्रदेश सरकार की नीतियों के खिलाफ किये जा रहे तीन दिवसीय आंदोलन के अंतिम दिन बुधवार को SP के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद Akhilesh yadav को दिल्ली से Lucknow आने पर अमौसी हवाई अड्डे के बाहर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

जाने क्या हुआ जो Lucknow पहुंचते ही Akhilesh yadav गिरफ्तार

जाने क्या हुआ जो Lucknow पहुंचते ही Akhilesh yadav गिरफ्तार

Samajwadi Party प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष Akhilesh yadav को पुलिस ने सुबह सवा नौ बजे के करीब उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वे दिल्ली से Lucknow पहुंच कर अमौसी हवाई अड्डे से बाहर आ रहे थे.
क्यों हुए Akhilesh yadav गिरफ्तार

अखिलेश यादव को योगी की पुलिस ने किया गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था, भ्रष्टाचार और Sarkar की नीतियों के विरोध में Samajwadi Party द्वारा गत सोमवार से तीन दिवसीय प्रदेशव्यापी जन-आंदोलन किया जा रहा है.

Akhilesh yadav की गिरफ्तारी के बाद पूरे पूर्वांचल में SP कार्यकर्ताओं ने काटा बवाल

Samajwadi Party के मुखिया तथा पूर्व mukhyamantri Akhilesh yadav की उन्नाव में गिरफ्तारी की सूचना पर वाराणसी सहित पूरे पूर्वांचल में सपा Karyakarta ने जमकर बवाल काटा। कहीं पुतला फूंका तो कहीं विरोध में सड़क जाम किया। योगी Sarkar के खिलाफ नारेबाजी भी हुई। पुतला छीनने को लेकर Karyakarta की police से नोंकझोंक और धक्का मुक्की भी हुई। आगे की स्लाइड्स में जानें कहां क्या हुआ?

वाराणसी:

वाराणसी में सपा मुखिया Akhilesh yadav गिरफ्तार के बाद सपाजन भड़क गए।  हिरासत में लिए जाने की जानकारी मिलते ही Party पदाधिकारी और Karyakarta सड़क पर उतर आए। जुलूस निकाल कर सपाई कलेक्ट्रेट पहुंचे। इसके बाद police से नोकझोंक और धक्कामुक्की करते हुए सुरक्षा घेरे को तोड़कर सभी कलेक्ट्रेट के पश्चिमी गेट से डीएम पोर्टिको जा पहुंचे। नारेबाजी और प्रदर्शन की सूचना पर सात थानों की फोर्स के साथ पहुंचे एसपी सिटी ने 135 सपाजनों को बस से police लाइन भिजवाया। इस दौरान लगभग दो घंटे तक कलेक्ट्रेट और आसपास अफरातफरी का माहौल रहा।

भदोही में भी सपा Karyakarta ने उग्र प्रदर्शन किया। उन्होंने Party के जिला Karyalaya से जिलाध्यक्ष  के नेतृत्व में जुलूस निकालकर प्रदेश Sarkar के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जिला Mukhyalay पहुंचे। योगी को ढोंगी बताते हुए अयोग्य सीएम बताया। गुस्साए सपा Karyakarta ने सीएम का पुतला दहन किया। Aarop लगाया कि प्रदेश में जब से भाजपा की Sarkar बनी है, आम जनता का उत्पीड़न बढ़ गया है।

बलियाः

Akhilesh yadav गिरफ्तार के विरोध में गुरुवार को Party Karyalaya पर Karyakarta ने mukhyamantri का पुतला फूंका। जिलाध्यक्ष ने कहा कि योगी Sarkar के इस कृत्य की जितनी भी निंदा की जाए कम है।  रसड़ा कस्बा के प्यारेलाल चौराहे पर सपा के Karyakarta ने गुरुवार की शाम सीएम योगी का पुतला फूंक कर विरोध जताया। Karyakarta ने प्रदेश Sarkar के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

चंदौलीः

Akhilesh yadav गिरफ्तार से नाराज सपा Karyakarta ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। Karyalaya परिसर में घुसने के प्रयास में Karyakarta ने मुख्य गेट को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। प्रदेश Sarkar के खिलाफ नारेबाजी करने के साथ ही पूर्व सीएम को तत्काल छोड़ने की मांग की। अंत में राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा।

गाजीपुरः

SP Karyakarta ने गुरुवार को मुहम्मदाबाद तहसील त्रिमुहानी पर प्रदेश के mukhyamantri योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका। Karyakarta ने क्षेत्र पंचायत Karyalaya से राज्यसभा सांसद नीरज शेखर के नेतृत्व में जुलूस निकाला। जुलूस में शामिल सपा Karyakarta प्रदेश और केंद्र Sarkar के विरोध में नारे लगा रहे थे। जुलूस मुख्य मार्ग होते हुए तहसील त्रिमुहानी पहुंचा और योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका।

जौनपुरः

Akhilesh yadav की गिरफ्तारी से नाराज Party Karyakarta ने जिले में उग्र प्रदर्शन किया। शहर के जेसीज चौराहे पर जुटे बड़ी संख्या में सपा Karyakarta जुलूस के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे। Sarkar के खिलाफ नारेबाजी की। Samajwadi छात्रसभा के जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में Karyakarta ने टीडी कालेज के मुख्य द्वार पर mukhyamantri का पुतला फूंका। इस दौरान पुतला छीनने को लेकर Karyakarta की police से नोंकझोंक और धक्का मुक्की भी हुई।

मऊः

Akhilesh yadav गिरफ्तार के विरोध में सपा Karyakarta गुरुवार को सड़क पर उतर गए। जगह-जगह प्रदर्शन कर Sarkar के विरोध में नारेबाजी कर mukhyamantri योगी का पुतला फूंका। सपा जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में गुरुवार को Karyakarta ने खुरहट बाजार में सीएम का पुतला फूंका। सपा युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव के नेतृत्व में सड़क पर उतरे Karyakarta ने जिला Mukhyalay पर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही सीएम का पुतला दहन किया।

मिर्जापुर:

मिर्जापुर के चुनार में सपा Karyakarta ने गोला बाजार रस्तोगी तिराहे पर गुरुवार को पूर्व mukhyamantri Akhilesh yadav को औरैया जाते वक्त कानपुर में उनके काफिले को रोके जाने व गिरफ्तार किये जाने के विरोध में mukhyamantri का पुतला फूंका।

सोनभद्र:

Akhilesh yadav की गिरफ्तारी के बाद सोनभद्र में नाराज सपाजनों ने गुरुवार को कोतवाली के पुसौली गांव के समीप राजमार्ग चक्कजाम कर दिया। नेताओं को RihaI की मांग करते हुए योगी Sarkar के खिलाफ नारेबाजी की। आधे घंटे बाद police ने Karyakarta को समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। ओबरा में छात्रसंघ पदाधिकारियों ने गुरुवार को डिग्री कॉलेज चौराहे पर राज्य Sarkar पर तानाशाही रवैया अपनाने का Aarop लगाते हुए पुतला फूंका।
Continue reading

Akhilesh yadav and Rahul Gandhi News 2019 मिशन उत्तर प्रदेश

Rahul Gandhi News 2019 मिशन उत्तर प्रदेश - Lucknow में Congress अध्यक्ष Rahul Gandhi, पूर्वी यूपी प्रभारी और Party महासचिव Priyanka Gandhi वाड्रा और Jyotiraditya Scindia ने सोमवार को रोड शो कर ताकत का एहसास कराया। रोड शो के दौरान Congress अध्यक्ष Rahul Gandhi ने अपनी रणनीति सामने रखी तो सियासी खेमों में हड़कंप मच गया। Rahul Gandhi के राजनीतिक दांव चलने के बाद SP अध्यक्ष Akhilesh yadav आनन-फानन में सामने आए और उन्होंने कहा कि Gathbandhan में Congress Party भी शामिल है।

Akhilesh yadav and Rahul Gandhi News 2019 जाने पूरी बात

Akhilesh yadav and Rahul Gandhi News 2019 मिशन उत्तर प्रदेश

Samajwadi Party के अध्यक्ष Akhilesh yadav ने कहा, 'यह Gathbandhan BSP से तो है, वहीं आपकी और जानकारी होगी कि Congress Party भी शामिल है, आरएलडी को भी तीन सीटें दी गई हैं, वह भी शामिल हैं। और निषाद Party को भी क्योंकि पहले हम चुनाव उनके साथ लड़े हैं। इतना ही नहीं, अन्य छोटे दलों को लेकर Akhilesh yadav ने कहा, 'आने वाले समय में कुछ Lok sabha में हमारे साथ रहेंगे और कुछ vidhan sabha में भी हमारे साथ रहेंगे।'

जाने की Rahul Gandhi ने मिशन उत्तर प्रदेश के बारे में क्या बोला

बता दें Congress चीफ Rahul ने रोड शो के दौरान कहा, 'इस देश का अगर कोई दिल है तो वह उत्तर प्रदेश है। मैंने Priyanka और Syndhyaji को यहां का जनरल सेक्रटरी बनाया है। मैंने उनको (Priyanka Gandhi वाड्रा और Jyotiraditya Scindia) कहा है कि उत्तर प्रदेश में जो सालों से अन्याय हो रहा है, उसके खिलाफ इन दोनों को लड़ना है और यूपी में न्यायवाली सरकार लानी है। इनका लक्ष्य Lok sabha में जरूर है पर इनका लक्ष्य 2022 में होने वाले vidhan sabha चुनाव में Congress की सरकार बनाने का है। हम यहां फ्रंट फुट पर खेलेंगे, बैक फुट पर नहीं खेलने वाले हैं। जब तक यहां Congress की विचारधारा वाली सरकार नहीं बनेगी तब तक मैं, Priyanka और Syndhyaji चैन से बैठने वाले नहीं हैं।'

Gathbandhan में Congress तो सहयोगी BSP क्यों कर रही अटैक?

Rahul Gandhi के इस बयान का असर सबसे ज्यादा Samajwadi Party (SP) और बहुजन समाज Party खेमे में देखा गया। उसकी वजह है Lok sabha चुनाव 2019 में SP-BSP के Gathbandhan से Congress को दूर रखते हुए दो सीटों (रायबरेली-अमेठी) पर प्रत्याशी न उतारने का समझौता। भले ही Akhilesh yadav Lok sabha चुनाव 2019 के मद्देनजर यूपी में हुए SP-BSP के Gathbandhan में Congress के शामिल होने का अब दावा करने लगे हैं, लेकिन Mayawati लगातार Congress पर हमलावर हैं। पिछले दिनों Mayawati ने कहा था, 'Congress Party की पूर्ववर्ती सरकारों का रेकॉर्ड और खासकर इंदिरा गांधी की सरकार के बहुचर्चित गरीबी हटाओ के नारे व घोषणा के परिणाम जनता के सामने हैं। Congress और बीजेपी इन दोनों ही पार्टियों द्वारा किसानों की दुर्दशा को समाप्त करने को लेकर किया गया वादा हवा-हवाई और छलावा ही साबित हुआ है।'

अगर आपको हमरी ये Rahul Gandhi News 2019 अच्छी लगी हो तो अपने दोस्ती में Share जरुर करे।
Continue reading